Types of noun in hindi with examples(संज्ञा के प्रकार)

Spread the love

Types of Noun in Hindi with examples (संज्ञा के प्रकार)

1. नाउन किसी भी वाक्य में क्रिया के कर्ता(subject) के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है
2. सब्जेक्टिव नाउन (subject noun) के रूप में भी इस्तेमाल होता है, सब्जेक्ट नाउन वह नाउन होता है जिसके बारे में संपूर्ण वाक्य आधारित होता है अर्थात संपूर्ण वाक्य उसी के बारे में लिखा गया होता है।
3. सब्जेक्टिव नाउन (subject noun) को कई बार हम नॉमिनेटिव केस(nominative case) के नाम से भी जानते हैं।
आइए इन तीनों को उदाहरण (Example) के रूप में देखते हैं तथा समझते हैं।
उदाहरण
1. शेर जंगल का राजा है ( यह वाक्य शेर के बारे में है तथा इस वाक्य में शेर सहायक क्रिया (Helping verb) के कर्ता के रूप में काम कर रहा है)
2. रेल गाड़ी प्लेटफार्म पर पहुंची ( इस वाक्य में रेलगाड़ी शब्द कर्ता है तथा इस वाक्य में रेलगाड़ी शब्द क्रिया (पहुंचने) के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

• यदि किए गए कार्य का फल संज्ञा पर पड़ता है तो उसे हम ऑब्जेक्टिव नाउन (objective noun) के नाम से जानते हैं
ऑब्जेक्टिव नाउन हमेशा क्रिया के बाद आता है ऑब्जेक्टिव नाउन को हम ऑब्जेउक्टिव केस (Objective case) के नाम से भी जानते हैं।
संज्ञा किसे कहते हैं? संज्ञा कितने प्रकार की होती है?
अपने पूरे संसार में हम जिस किसी भी चीजों को उनके नाम से जानते हैं तथा पहचानते हैं उसे हम संज्ञा कहते हैं।
जैसे:- कार, पेंसिल, बस, रबड़ इत्यादि

Types of noun in hindi with examples
Types of noun in hindi with examples

संज्ञा के प्रकार (Types of noun in hindi with examples)

संज्ञा (Noun) निम्न पांच प्रकार की होती है।

• कॉमन नाउन (Comman noun)
• प्रॉपर नाउन (Proper noun)
• कलेक्टिव नाउन (Collective noun)
• मैटेरियल नाउन (Material noun)
• एब्स्ट्रेक्ट नाउन (Abstract noun)

कॉमन नाउन(Comman noun) किसे कहते हैं?

कॉमन नाउन(Comman noun) वे शब्द होते हैं जो सामान्यतः किसी भी चीज को दर्शाने के संज्ञा के रूप में इस्तेमाल किए जाते हैं जैसे:- कपड़ा, गाड़ी, बस, पेड़, जानवर डॉक्टर इत्यादि।
कॉमन नाउन एकवचन (Singular) या बहुवचन (Plural) दोनों हो सकते हैं।
• सामान्यता हम कई सारी संख्याओं में (s) लगा कर के उसे बहुवचन में बदल सकते हैं
जैसे:- Chairs, pens, sticks आदि

प्रॉपर नाउन(Proper noun) किसे कहते हैं?

यदि किसी कामन नाउन को हम विशेष नाम से दर्शाते हैं अर्थात उसका नाम अपने आप में विशेष हो तो उसे हम प्रॉपर नाउन(Proper noun) के नाम से जानते हैं जैसे मुंबई, जयपुर, रोहन ,आमिर खान, लाल किला आदि।
• प्रॉपर नाउन हमेशा बड़े अक्षर अर्थात (Capital letter) से शुरू होता है।

कलेक्टिव नाउन(Collective noun) किसे कहते हैं

कलेक्टिव नाउन(Collective noun) हमेशा किसी विशेष व्यक्ति किसी विशेष चीज अर्थात किसी विशेष प्रकार के समूह को दर्शाते हैं जैसे:- लोगों का झुंड, बकरियों का झुंड, गायों का झुंड, चिड़ियों का झुंड, गायकों का समूह, तारों का समूह आदि

मैटेरियल नाउन(Material noun) किसे कहते हैं

मैटेरियल नाउन(Material noun) वे नाम होते हैं की चीजें किस चीज से मिलकर बनी हुई है अर्थात मैटेरियल नाउन से सामान्यता हम किसी चीज का निर्माण करते हैं जैसे:- कांच, तांबा, पीतल, लोहा, चांदी आदि
नोट:- मटेरियल नाउन को हम कभी भी गिन नहीं सकते हैं
कुछ ऐसी संज्ञा(Noun) है जो हमेशा दो(two) होती हैं
कुछ ऐसी भी संज्ञाऐ होती हैं जो हमेशा अपने आप में दो होती हैं।
जैसे:- जूता, चश्मा, चप्पल, कैंची आदि

कंपाउंड नाउन(Compund noun) किसे कहते हैं?

ऐसी संख्या जो दो शब्दों से मिलकर बनी होती है उसे हम कंपाउंड नाउन(Comound noun) के नाम से जानते हैं, जब हम दो अलग-अलग शब्दों को जोड़ करके एक नया शब्द बनाते हैं और वह नया शब्द पिछले दो जुड़े हुए शब्दों से भिन्न होता है तथा उनका अर्थ भी भिन्न होता है ऐसे शब्दों को हम कंपाउंड नाउन(Compund noun) के नाम से जानते हैं।जैसे:-
1. बस+स्टॉप= बसस्टॉप (अर्थात ऐसा स्थान जहां पर बस आकर रुकती हो)।
2. मोटर+साइकिल= मोटरसाइकिल (अर्थात मोटर से चलने वाली गाड़ी)।
3. क्लास+मेट= क्लासमेट (अर्थात कक्षा में 7 पढ़ने वाला विद्यार्थी)

एब्स्ट्रेक्ट नाउन(Abstract noun)किसे कहते हैं

एब्स्ट्रेक्ट नाउन(Abstract noun) वे नाउन होते हैं जिसमें हम अपने विचारों को तथा क्वालिटी आदि को दर्शाते हैं। जैसे:- ईमानदारी, सच्चाई, शांति, जलन, मानवता आदि
नोट:- एब्स्ट्रेक्ट नाउन का कभी भी बहुवचन रूप नहीं पाया जाता है।

Read also:-

Disclaimer:-

The website does not surely guarantee a 100% accuracy of the figures. The above information is sourced from Google and various websites/ news media reports.

Copyright Disclaimer under section 107 of the Copyright Act 1976, allowance is made for “fair use” for purposes such as criticism, teaching, scholarship, comment, news reporting, education & Research.

If you like this Types of noun in Hindi with examples(संज्ञा के प्रकार) post then comment down and share the opinion with us and You can also make #Greatfaces on Instagram, Youtube, Twitter, Pinterest, Linkedin & More and My team mention you in Story, My last word is thanks for Visting my Sites (Bye Bye).

Leave a Comment